अपने रक्त को शुद्ध करने के लिए इन घरेलू उपचार को आजमाई

0
176

जयपुर: यदि रक्त में कोई दोष है, तो इसका प्रभाव त्वचा पर दिखाई देता है। यदि त्वचा पर धब्बे, घाव या कोई संक्रमण है, तो यह एनीमिया के कारण है। अगर आपको ऐसी समस्या है तो चिंता न करें। घर पर रहकर, घरेलू उपचार अपनाकर एनीमिया की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

नीम: रक्त को शुद्ध करने के लिए नीम सबसे अच्छा विकल्प है। सुबह खाली पेट कुछ नीम की पत्तियों को चबाएं और पानी पी लें। कुछ हफ्तों के लिए इस प्रक्रिया को दोहराने के बाद, रक्त साफ हो जाता है।

अदरक और नींबू: अदरक के छोटे टुकड़ों को पीस लें और थोड़ा नींबू का रस जोड़ें। काली मिर्च और थोड़ा नमक पीसकर अच्छी तरह मिलाएं। सुबह खाली पेट इस मिश्रण के नियमित सेवन से खून साफ ​​होता है।

बेलपत्र: पके बेल के गूदे का नियमित रूप से शक्कर के साथ सेवन करना चाहिए। कुछ हफ्तों में रक्त शुद्ध हो जाता है।

हल्दी: खून को साफ़ करने के लिए हल्दी एक अचूक औषधि है। यह मूत्र के माध्यम से रक्त में अपशिष्ट उत्पादों को बाहर निकालता है।

लहसुन: सुबह खाली पेट कुछ केसर लहसुन का सेवन करना चाहिए। यह न केवल फंगल संक्रमण से बचाता है, बल्कि रक्त को भी शुद्ध करता है।

तुलसी:तुलसी के पत्तों को सुबह खाली पेट लेना चाहिए, यह रक्त को शुद्ध करता है और शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा को भी पूरा करता है।

अमला:आंवला समग्र स्वास्थ्य के लिए एक चमत्कारिक फल है। विटामिन सी से भरपूर आंवला लिवर की कार्यक्षमता बढ़ाता है और शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here